NCERT Hindi Class 10 Chapter 10 Bade Bhai Sahab CBSE Board Sample Problems Long Answer (For CBSE, ICSE, IAS, NET, NRA 2022)

Get top class preparation for CBSE right from your home: fully solved questions with step-by-step explanation- practice your way to success.

1 बड़े भाई साहब के अनुसार जीवन की समझ कैसे आती है?

उत्तर-: बड़े भाई साहब के अनुसार जीवन की समझ केवल किताबी ज्ञान से नहीं आती बल्कि अनुभव से आती है। इसके लिए उन्होने अम्माप दादा व हैडमास्टर की माप के उदाहरण भी दिए है कि वे पढ़े लिखे न होने पर भी हर समस्याओं का समाधान आसानी से कर लेते हैंं। अनुभवी व्यक्ति को जीवन की समझ होती है वे हर परिस्थिति में उपने को ढालने की क्षमता रखते हैं।

2 छोट भाई ने अपनी पढ़ाई का टाइम-टेबिल बनाते समय क्या- क्या सोचा और फिर उसका पालन क्यों नही कर पाया?

उत्तर-: छोटे भाई ने अपनी पढ़ाई का टाइम-टेबिल बनाते समय सोचा कि अब वह मन लगाकर पढ़ाई करेगा और बड़े भाई को कभी शिकायत का मोका नही देगा। रात ग्यारह बजे तक हर विषय को पढ़ने का कार्यक्रम बनाया गया, परन्तु पढ़ाई करते समय खेल के मैदान उसकी हरयाली हवा के हल्के हल्के झोंके, फुटबॉल की उछलकूद, कबड्‌डी, बालीबॉल की तेजी सब चीज़े उसे अपनी ओर खींचती थी इसलिए वह टाइम टेबिल का पालन नहीं कर पाया। साथ ही प्रिय शौक खेल को टाइम-टेबिल में स्थान देना भी रुकावट था।

3 बड़े भाई साहब की विशेषताएप लिखिए।

उत्तर-: बड़े भाई साहब अध्ययनशील थे हर समय किताब खोले बेठे रहते थे। उपदेश कला में निपुण थे, उत्तरदायित्व निभाने वाले थे क्योंकि छोटे भाई को सही रास्ते पर चलाने के लिए स्वयं अपना उदाहरण प्रस्तुत करते थे। थकान उतारने के लिए उपनी नोटबक में शब्द निरर्थक या उसंगत वाक्य या चित्र बनाते रहते थे।

4 लेखक के समय और आज की शिक्षा प्रणाली में अंतर बताइए।

उत्तर-: लेखक के समय रटन्त विद्या पर जोर था पुस्तकों में लिखी भाषा में ही उत्तर लिखने पर ही अंक मिलते थे, अन्यथा उत्तर काट दिया जाता था। आज की शिक्षा प्रणाली में रटने को पूर्णत: गलत माना जाता है। विचार और भावों को प्रधानता दी जाती है। रचनात्मकता को स्वीकार करते हुए पाठ से पृथक उत्तर भी स्वीकार किए जाते हैं।

5 छोटे भाई की विशेषताएप लिखिए।

उत्तर-: छोटा भाई हर समय खेलता रहता था। कक्षा में ध्यान से पढ़ता था। गृहकार्य समय से पूरा करता था। खेल व पढ़ाई में सामन्जस्य करना जानता था। टाइम -टेबिल बनाता था जिसमें खेल को कोई स्थान नहीं देता था। टाइम -टेबिल का पालन नही कर पाया था। सदेव कक्षा में प्रथम आता।