हिन्दी (स्पर्श) (पाठ 3) (बिहारी-दोहे) (कक्षा 10)

प्रश्न 4 :

गोपियाँ श्रीकृष्ण की बाँसुरी क्यों छिपा लेती हैं?

उत्तर 4:

गोपियाँ श्रीकृष्ण की मुरली इसलिए छिपाती है क्योंकि कृष्ण जी हर समय अपनी मुरली बजाकर केवल उसी में मग्न रहते हैं और उनका ध्यान अपनी मुरली के अलावा ओर कहीं नहीं रहता हैं अर्थात बाँसुरी बजाते समय वे सबकुछ भूल जाते है। मुरली पर से कृष्ण जी का ध्यान हटाने के गोपियाँ वह बांसुरी छिपा देती हैं जिससे कृष्ण का पूरा ध्यान मुरली के अलावा गोपियाँ पर भी जाएं।

प्रश्न 5 :

बिहारी कवि ने सभी की उपस्थिति में कैसे बात की जा सकती है, इसका वर्णन किस प्रकार किया हैं? अपने शब्दों में लिखिए।

उत्तर 5 :

कवि बिहारी को लोक, शर्म, मर्यादा व हया का अच्छा ज्ञान था अर्थात वे इन सबके विषय में अच्छी तरह जानते थे। ऐसे में भरे पूरे परिवार में नायक व नायिका का आपस में बात करना बहुत कठिन था और इस कठिनाई को देखते हुए बिहारी जी ने दोनों की आंखों के माध्यम से दोनों की बातचीत कराने का उपाय सोचा। जब नायक व नायिका के आंखे आपस में मिलती थीं, तो नायक के अनुरोध को नायिका अपनी आंखो के संकेत से मना कर देती थीं, यह प्रक्रिया बार-बार होती थीं और इस तरह नायिका, नायक से रूठ भी जाती थीं। इस तरह से दोनों ही आंखों ही आंखो में बात कर लेते थें, और परिवार में मौजूद किसी भी लोगों को पता भी नहीं चलता था।

Explore Solutions for Hindi

Sign In