NCERT Class 9 Hindi Chapter 15 Part 1 कक्षा 9 एनसीईआरटी पाठ-15

Download PDF of This Page (Size: 170K)

प्रश्न 1 गुरुदेव ने शांतिनिकेतन को छोड़ कहीं और रहने का मन क्यों बनाया?

उत्तर - गुरुदेव के स्वास्थ्य के अच्छे न होने के कारण उन्होंने शांतिनिकेतन को छोड़कर कहीं और जाने का निर्णय किया।

प्रश्न 2

मूक प्राणी मनुष्य से कम संवेदनशील नहीं होते। पाठ के अधार पर स्पष्ट कीजिए।

उत्तर -मूक प्राणी भी संवेदनशील होते हैं, उन्हें भी स्नेह की अनुभूति होती है। पाठ में रविन्द्रनाथ जी के कुत्ते के कुछ प्रसंगों से यह बात स्पष्ट हो जाती है-

• जब कुत्ता रविन्द्रनाथ के स्पर्श (छुने) को आँखे बंद करके अनुभव करता है, तब ऐसा लगता है मानों उसके अतृप्त मन उस स्पर्श ने तृप्ति मिल गई हो।

• रविन्द्रनाथ कि मृत्यु पर उनके चिता भस्म के कलश के सामने वह चुपचाप बैठा रहा तथा अन्य आश्रमवासियों के साथ गंभीर से उत्तरायण तक गया।

प्रश्न 3

गुरुदेव दव्ारा मैना को लक्ष्य करके लिखी कविता कब समझ पाया?

उत्तर - गुरुदेव दव्ारा मैन को लक्ष्य करके लिखी गई कविता का मर्म लेखक को तब समझ आया जब रवीन्द्रनाथ के कहने पर उन्होंने मैना को ध्यान पूर्वक देखा। तब उन्हें मैना की रुण दशा ज्ञात हुई।

प्रश्न 4

प्रस्तुत पाठ एक निबंध है। निबंध गद्य-साहित्य की उत्कृष्ट विधा है, जिसमें लेखक अपने भावों और विचारों को कलात्मक औश्र लालित्यपूर्ण शैली में अभिव्यक्त शैली में अभिव्यक्त करता है। इस संबंध में उपर्युक्त विशेषताएँ कहाँ झलकती हैं? किन्हीं चार का उल्लेख कीजिए।

उत्तर -

• प्रतिदिन प्रात:काल यह भक्त कुत्ता स्तब्ध होकर आसन के पास तक तक बैठा रहता है, जब तक अपने हाथों के स्पर्श से मैं इसका संग स्वीकार नहीं करता। इतनी सी स्वीकृति पाकर ही उसके अंग-अंग में आनंद का प्रवाह बह उठता है।

• इस बेचारी को ऐसा कुछ भी शौक नहीं है, इसके जीवन में कहाँ गाँठ पड़ी है, यह सोच रहा हूँ।

• उस समय भी न जाने किस सहज बोध के बल पर वह कुत्ता आश्रम के दव्ारा तक आया और चिताभस्म के साथ गंभीर भाव से उत्तरायण तक गया।

• रोज़ फुदकती है ठीक यहीं आकर। मुझे इसकी चाल में एक करुण भाव दिखाई देता है।