पत्र- (Letter)

Get unlimited access to the best preparation resource for IAS : Get detailed illustrated notes covering entire syllabus: point-by-point for high retention.

Download PDF of This Page (Size: 153K)

औपचारिक पत्र - (Formal Letter)

1. आवेदन/प्रार्थना-पत्र (प्रधानाचार्य/मुख्याध्यापक को) अपने प्रधानाचार्य को छात्रवृत्ति के लिए एक आवेदन-पत्र लिखिए।

परीक्षा भवन

नई दिल्ली: 15 अप्रैल, 2017

प्रधानाचार्य

चिरंजीव भारतीय विद्यालय

पालम विहार, गुड़गाँव

माननीय महोदय

विषय: छात्रवृत्ति के लिए आवेदन

कल कक्षाध्यापिका श्रीमती मंजू मल्होत्रा दव्ारा यह सुनकर अत्यंत प्रसन्नता हुई कि विद्यालय के उन छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्तियाँ दी जाएँगी, जो अस्सी प्रतिशत तक अंक प्राप्त करने के साथ-साथ किसी-न-किसी सांस्कृतिक प्रवृत्ति में भी विशेष योग्यता रखते होंगे। विनम्र निवेदन है कि मैं उपर्युक्त सभी शर्तों को पूरा करता हूँ। अतएव मुझे छात्रवृत्ति का गौरव प्रदान किया जाए।

महोदय पिछले वर्ष भी मैंने आठवीं कक्षा में अस्सी प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किए थे तथा भाषण प्रतियोगिता और कविता पाठ प्रतियोगिता में भी मैंने क्रमश: प्रथम और दव्तीय स्थान प्राप्त किया था। इस बार भी मैं अंतर्विद्यालय वार्षिक भाषण प्रतियोगिता में पुरस्कृत किया गया हूँ और आशा करता हूँ कि मैं प्रथम सत्र की परीक्षा में ही नब्बे प्रतिशत से भी अधिक अंक प्राप्त कर लूँगा। में विद्यालय की हॉकी टीम (दल) का कैप्टन (नेता) भी हूँ तथा मेरे सभी अध्यापक मुझसे बहुत प्रसन्न हैं।

आशा है आप मुझे छात्रवृत्ति की उपर्युक्त सुविधा प्रदान करके अनुगृहीत करेंगे। मैं जीवनभर आपका आभार मानूँगा।

सधन्यवाद

आपका आज्ञाकारी शिष्य

विनोद

कक्षा दसवीं ’अ’

2. बीमारी के कारण परीक्षा न दे सकने पर प्रधानाचार्य को ’चिकित्सा-अवकाश’ के लिए एक आवेदन-पत्र लिखिए।

परीक्षा भवन

नई दिल्ली

प्रधानाचार्य महोदय

राजकीय उच्च विद्यालय

शकूरपुर, दिल्ली

दिनांक : 1 अक्टूबर, 2017

माननीय महोदय

विषय- चिकित्सा अवकाश के लिए आवेदन

सविनय निवेदन है कि मैें आपके विद्यालय की दसवीं कक्षा का छात्रा हूँ। गत चार-पाँंच दिनों से मुझे तेज बुखार है। हमारे पारिवारिक चिकित्सक ने इस बुखार को ’टाइफाइड’ बताया है। इस बुखार के कारण मैं लगभग आगामी दस दिन तक विद्यालय आने में असमर्थ हूँ। बुखार के कारण मैं कमजोरी अनुभव कर रहा हूँ। इस कारण मैं 3 अक्टूबर से 9 अक्टूबर तक होने वाली त्रैमासिक परीक्षा नहीं दे पाऊँगी।

अत: आपसे प्रार्थना है कि मुझे 1 अक्टूबर से 10 अक्टूबर तक चिकित्सा-अवकाश प्रदान करें। आपकी अत्यंत कृपा होगी।

आपकी आज्ञाकारी शिष्या

सीता

कक्षा दसवीं ’अ’

अनौपचारिक पत्र - (Informal Letter)

1. अपने मित्र को अपने बड़े भाई के विवाह में सम्मिलित होने का निमंत्रण भेजिए।

परीक्षा भवन

नई दिल्ली

दिनांक : 11 मार्च, 2017

प्रिय मित्र राहुल

सप्रेम नमस्कार

तुम्हें यह जानकर हार्दिक प्रसन्नता होगी कि ईश्वर की असीम कृपा से मेरे अग्रज श्री सुरेंद्र कुमार का शुभ विवाह देहरादून निवासी श्री सुनीत कुमार की पुत्री से दिनांक 25 मार्च, 2017 को होना निश्चित हुआ है। बारात 25 मार्च को प्रात: दस बजे देहरादून के लिए प्रस्थान करेगी। इस शुभ अवसर पर मैं तुम्हें सप्रेम आमंत्रित करते हुए आशा करता हूँ कि तुम अपनी उपस्थिति से समारोह की शोभा बढ़ाओगे। विश्वास है कि तुम निराश नहीं करोगे।

शेष मिलने पर

तुम्हारा मित्र

आकाश

2. अपने जन्म-दिन पर आयोजित कार्यक्रम की रूपरेखा बताते हुए किसी मित्र को उस अवसर पर आने का निमंत्रण -पत्र लिखिए।

राष्ट्रपति रोड़

हैदराबाद

दिनांक: 27 नवंबर, 2017

प्रिय मित्र

सप्रेम नमस्कार

तुम्हें यह जानकर हार्दिक प्रसन्नता होगी कि 28 दिसंबर को हर वर्ष की भाँति मैं अपना जन्म-दिन मना रहा हूँ। इस बार इस अवसर पर मैंने अपने सभी मित्रों को निमंत्रित किया है। पिछले वर्ष की भाँति इस वर्ष भी जलपान तथा सांयकालीन भोज की व्यवस्था की गई है। मित्र-मंडल दव्ारा मनोरंजक कार्यक्रम आयोजित किए जाने की भी पूरी संभावना है। मैं तूम्हें भी इस अवसर पर अपने माता-पिता के साथ आने का हार्दिक निमंत्रण भेज रहा हूँ। आशा है तुम इसे स्वीकार करोगे और आकर मेरे प्रति अपने स्नेह तथा प्रगाढ़ मित्रता का परिचय दोगे।

शेष मिलने पर

तुम्हारा मित्र

शेखर