मुहावरे

Doorsteptutor material for CTET-Hindi/Paper-2 Child-Development-and-Pedagogy is prepared by world's top subject experts: fully solved questions with step-by-step explanation- practice your way to success.

Download PDF of This Page (Size: 113K)

मुहावरे की परिभाषा- जब कोई वाक्यांश अपने सामान्य अर्थ को छोड़कर किसी विशेष अर्थ में रूढ़ हो जाता है तो उसे मुहावरा कहते हैं; जैसे -

• राणा प्रताप ने हल्दीघाटी के युद्ध में मुगल सेना के दाँत खट्‌टे कर दिए।

मुहावरे : अर्थ और प्रयोग

• अक्ल पर पत्थर पड़ना-बुद्धि से काम न लेना

वाक्य प्रयोग - जब बुरे दिन आते हैं तो मनुष्य की अक्ल पर पत्थर पड़ जाते हैं।

• आग-बबूला होना- अत्यंत क्रोधित होना

वाक्य प्रयोग-जैसे ही नौकरानी से फूलदान गिरा, मालकिन आग-बबूला हो गई।

• आग लगाना-चुगली करना।

वाक्य प्रयोग-मीना अपनी सहेली मोहनी से वैसे ही नाराज थी, आँचल ने उसकी बातें सुना -सुनाकर और आग लगा दी।

• अंगारे उगलना-क्रोध में कठोर वचन बोलना।

वाक्य प्रयोग-बच्चों ने खेलते हुए, लाला जी के मकान का शीशा तोड़ डाला तो लाला जी अंगारे उगलने लगे।

• अंग-अंग ढीला होना-बहुत थक जाना।

वाक्य प्रयोग-कड़ी मेहनत करने से किसानों का अंग-अंग ढीला हो जाता है।